Sexy Chachi Ki Chut Mari


मैंने पहले सेक्सी चाची की चूत मारी. फिर हम ब्लू फिल्म देखने लगे. तब चाची ने मेरा लंड चूसने की पेशकश की. नेकी और पूछ पूछ … मैंने तुरंत हाँ कर दी.

हैलो साथियो, मैं आपका दोस्त भास्कर एक बार फिर से आपकी सेवा में अपनी पड़ोसन हेमा चाची की चुदाई की कहानी का मजा लेकर हाजिर हूँ.
पिछले भाग
चाची की गांड के छेद की चाहत
में अब तक आपने पढ़ा था कि चाची की चुत मुझे काफी दिनों बाद चोदने को मिली थी, तो मैं उनके ऊपर चढ़ गया था.

अब पढ़ें कि कैसे मैंने सेक्सी चाची की चूत मारी:

मेरे नीचे चुदासी पड़ीं हेमा चाची ने मुझे कस कर अपनी बांहों में जकड़ लिया और कुछ मिनटों तक हम दोनों इसी तरह लेटे लेटे बातें करते रहे.

बातों से मुझे पता चला कि चाचा अब दो-तीन दिनों के लिए घर से बाहर हैं. इस वजह से मेरी और हेमा चाची की ये दो-तीन रातें रंगीन होंगी.

हम दोनों को अब तक और भी अधिक सेक्स चढ़ गया था.
हेमा चाची ने मेरा लंड पकड़ने के लिए मेरी जींस की पैंट के अन्दर हाथ डाल दिया.

मेरी जींस की पैंट बहुत टाईट थी. हेमा चाची को अन्दर हाथ डालने में दिक्कत हो रही थी, तो मैंने अपनी जींस का हुक खोल दिया.
चाची ने अपने हाथ से मेरी जींस की चैन नीचे खोली और मेरे खड़े गर्म लंड को बाहर निकाल कर अपने हाथ से मेरे लंड की खाल को ऊपर नीचे करने लगीं.

इतने दिनों बाद चाची के हाथ से लंड सहलवाने में मस्त मजा आ रहा था.

मैंने अपने एक हाथ से हेमा चाची की चूचियां दबाना शुरू कर दीं.

फिर मैंने हेमा चाची को साड़ी खोलने को कहा, तो हेमा चाची ने साड़ी के साथ साथ पेटीकोट भी उतार दिया.
चाची ने नीचे सिर्फ सफेद रंग की जालीदार चड्डी पहन रखी थी, जिसमें लाल लाल धारियां बनी थीं.

मैंने हेमा चाची की चड्डी के अन्दर हाथ डाल दिया. मेरा हाथ हेमा चाची की चूत पर आ गया था, जिस पर मैं हल्के से बाल महसूस कर रहा था.
चाची की फुद्दी कुछ फूली हुई थी.

अपनी चूत पर मेरे हाथ के स्पर्श से हेमा चाची सेक्सी सिसकारियां लेने लगीं और आवाजें निकालने लगीं- आह्ह्ह आह्ह्ह!

चाची की मादक आवाजें सुनकर मैं और ज्यादा उत्तेजित हो गया.
मैंने हेमा चाची के ब्लाउज के हुक को खोल दिए.
हेमा चाची ने ब्लाउज के नीचे वही चड्डी की मैचिंग कलर की ब्रा पहनी हुई थी.

जैसे ही मैंने पीछे से ब्रा का हुक खोला, तो हेमा चाची की मस्त गोल गोल फूली हुई चूचियां बाहर की ओर फुदकने लगीं.

मेरा मुँह उसी पल हेमा चाची की चूचियों के निप्पलों को चूसने में व्यस्त हो गया था और अब मेरा हाथ हेमा चाची की सेक्सी गांड पर जम गया था.

मैंने अपनी जींस और चड्डी दोनों उतार दी. मैं और हेमा चाची दोनों ही बिल्कुल नंगे हो गए थे.

अपना लंड फटाक से मैंने हेमा चाची की चूत में घुसेड़ दिया. हेमा चाची तो बस सेक्स भरी आवाजें निकाले जा रही थीं

मस्त चुदाई होने लगी थीं मैं हुम्म हुम्म करके चाची की चुत में लंड पेले जा रहा था और चाची भी नीचे से अपनी गांड उठा उठा कर लंड से लिहा ले रही थीं.

कुछ मिनट तक ताबड़तोड़ चुदाई करते करते मैं अब झड़ने वाला हो गया था.
मैंने हेमा चाची से कहा- चाची लंड का सफेद पानी चूत के अन्दर ही छोड़ दूं या बाहर निकाल दूं?
हेमा चाची ने कहा- बाहर ही छोड़ दो भास्कर … वैसे तूने पहले तो ये पूछा ही नहीं था. मुझे गोलियां लेनी पड़ी थीं.

मैंने अपने लंड को जल्दी से हेमा चाची की चूत से निकाला और अपने लंड का सारा पानी हेमा चाची की चूत के ऊपर ही बरसा दिया.

मैंने हांफते हुए कहा- चाची, उस समय मुझे याद ही नहीं रहा तय कि आपसे कुछ पूछ सकूं.

चाची ने कुछ नहीं कहा, बस मेरी पीठ पर हाथ फेर कर मुझे सहलाती रहीं.

जब मैं चाची के ऊपर से उठा, तो मेरे लंड का सफेद पानी हेमा चाची की चूत के छोटे छोटे बालों पर टपका हुआ साफ दिखाई दे रहा था.

मैं झड़ने के बाद हेमा चाची के बगल में बिस्तर में चित लेट गया और वहीं पड़ा रहा.

थोड़ी देर बाद हेमा चाची उठीं और उन्होंने पलंग के तकिए से खोली उतार ली.
उस खोली से चाची ने अपनी चूत पर पड़े मेरे लंड के सफेद पानी को पौंछा और उसी खोली से मेरे लंड को भी पौंछ कर साफ़ कर दिया.

हेमा चाची की हवस की आग अभी शांत नहीं हुई थी. वो मेरे ऊपर लेट गईं और मेरी छाती को चूमने लगीं.
लेकिन झड़ने के बाद मैं थोड़ा शांत था, मेरे मूड में सेक्स चढ़ने में थोड़ा टाईम था.

फिर हेमा चाची मुझसे चिपक कर मेरे बगल में लेट गईं और उन्होंने मुझसे कहा- भास्कर तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?
मैंने कहा- नहीं चाची, आपके रहते मुझे किसी गर्लफ्रेंड की जरूरत नहीं है.

हेमा चाची ये सुनकर मुस्कुरा दीं और बोलीं- क्या मुझसे मिलने से पहले तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड ही नहीं थी … बड़ी अजीब बात है भास्कर. तुम अच्छे दिखते हो, फिर भी गर्लफ्रेंड नहीं है?
मैंने कहा- हां चाची मैं सही कह रहा हूँ.

फिर हेमा चाची ने मुझसे कहा- भास्कर क्या तुमने कभी ब्लू फिल्में देखी हैं?
मैं थोड़ा चौक गया क्योंकि अगर कोई औरत ब्लू फिल्मों के बारे में बात करे तो यकीनन कोई भी चौंक जाएगा

मैंने कह दिया- हां चाची कॉलेज में एक दोस्त ने मुझे ब्लू फिल्म दिखाई थी. फिर मैं भी ये सब देखने लगा. अब मैं खुद ही अकेले में देख लेता हूँ.
चाची हंस दीं.

मैंने उनसे पूछा- चाची, क्या आपने कभी ब्लू फिल्म देखी है?
हेमा चाची हंसने लगीं और बोलीं- हां यार, ब्लू फिल्में देखना तो आजकल आम बात हो गई है.

मैंने पूछा- चाची, क्या लड़कियां भी ब्लू फिल्में देखती हैं?
हेमा चाची ने कहा- हां क्यों नहीं.. देखो भास्कर जवानी में सेक्स की इच्छा हर किसी को होती है … और ज्यादातर कुंवारे लड़के और लड़कियां ब्लू फिल्म देखते ही हैं. आखिर उन्हें भी तो अपने जिस्म की कामुक वासनाएं शांत करनी होती हैं.

यह सुनकर मैं थोड़ा सोच में पड़ गया. अब तक मेरा लंड तन चुका था और मैं फिर से सेक्स करने के लिए आतुर था.

मैंने हेमा चाची से पूछा- क्या आप अपने कॉलेज के दिनों में ब्लू फिल्में देखती थीं?
हेमा चाची बोलीं- हां भास्कर, मुझे तो ब्लू फिल्में देखना बहुत पसंद है. शादी से पहले मैं बहुत ब्लू-फिल्में देखती थी.

यह सुनकर मैं उत्तेजित होने लगा और मैंने हेमा चाची के साथ ब्लू फिल्म देखने की पेशकश कर दी.

हेमा चाची ने कहा- जरूर देखूंगी यार, क्या तुम्हारे पास ब्लू फिल्में हैं?
मैंने कहा- हां चाची मैंने कुछ ब्लू फिल्में मोबाईल में सेव कर रखी थीं, कभी कभी हवस शांत करने के लिए देख लेता हूँ.
चाची बोलीं- दिखाओ.

फिर मैंने जल्दी से अपना मोबाईल उठाया और ब्लू फिल्म चला ली.
फिल्म देखते समय हेमा चाची ने मेरे बांय कंधे पर अपना सिर रखा हुआ था और उनकी गोरी नंगी जांघ मेरे लंड के ऊपर थी. वो अपने हाथ को मेरी छाती पर मल रही थीं.

ब्लू फिल्म चल रही थी, जिसके शुरूआत में लड़की लड़के का लंड चूस रही थी.
यह सीन देखकर मुझे भी हेमा चाची से अपना लंड चुसवाने का ख्याल आया, पर उस टाईम मैं कुछ नहीं बोला.

फिल्म चलती रही और अब लड़की लड़के के लंड से टपकता सफेद पानी (वीर्य) पी रही थी.
ये देखकर हेमा चाची ने जरा भी छी: या ऐसा वैसा शब्द नहीं बोला क्योंकि हेमा चाची ब्लू फिल्में देखती थीं, तो उन्हें इस सबकी आदत हो गई थी.

मैंने हेमा चाची से सवाल पूछ लिया- चाची क्या आपने कभी ऐसा किया है?
हेमा चाची बोलीं- नहीं भास्कर, लेकिन तुम चाहो तो जरूर करना चाहूँगी.

फिर क्या था, ये सुनते ही मेरी तो जैसे तमन्ना ही पूरी हो गई थी.

फिर मैंने कहा कि चाची क्या आपको मर्दों के वीर्य (लंड के सफेद पानी) के फायदे पता हैं?
हेमा चाची बोलीं- हां भास्कर मुझे पता है कि मर्दों का वीर्य पीना और उससे अपने बदन की मालिश करना, औरतों की त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है.

ये सुनते ही मैं तो बड़ा हैरान था क्योंकि हेमा चाची तो मेरी उम्मीद से भी ज्यादा चुदक्कड़ निकली थीं.

मैंने कहा- हां चाची, आपने सही कहा है. मैंने भी वीर्य के फायदे के बारे में कहीं ऐसा ही पढ़ा था. तभी ब्लू फिल्मों में लड़कियां मजे लेकर मर्दों का वीर्य पीती हैं.
चाची बोलीं- तो क्या किसी से चुसवाया है तूने?

मैंने मजेदार अंदाज में कहा कि नहीं चाची अब तक कभी नहीं. आप ही मेरे लिए पहली हैं. अगर आप चाहो तो आप भी मेरे वीर्य के फायदे ले सकती हो.
हेमा चाची ने कहा- कैसे?

मैंने कहा- क्या चाची … मेरे होते हुए ये कैसे शब्द आपने कैसे बोला.
हेमा चाची मुस्कुरा दीं और मेरे होंठों पर एक किस देकर बोलीं- ठीक है भास्कर ऊपर उठो … मुझे तुम्हारा वो (लंड) चूसना है.

हाय हाय … क्या मस्त टाईम था यार.

मैं पहली बार किसी औरत से अपना लंड चुसवाने जा रहा था और जब वो औरत हेमा चाची जैसी अप्सरा और बला की खूबसूरत हो, तो क्या कहने.

अब मैं ऊपर की ओर खिसक गया और हेमा चाची ने अपने लाल लाल रसीले होंठों से मेरे लंड के टोपे को चूम लिया.

हाय … क्या मस्त मजा आया था उस दोपहर लंड चुसवाने में!

फिर हेमा चाची ने अपना मुँह खोला और मेरा लंड हेमा चाची के मुँह में समा गया.
सच में बड़ा मजा आ रहा था.

हेमा चाची जोर जोर से मेरा लंड चूसने लगीं. मेरे मुँह से ना चाहते हुए भी ‘आह्ह्ह आह्ह्ह ..’ की कामुक आवाजें निकल रही थीं.

मैं घुटनों के बल बैठा और मैंने पूरी ताकत से अपना लंड हेमा चाची के मुँह में पूरा पेल दिया. मेरा लंड हेमा चाची के गले तक पहुंच गया था.

मैं अपने लंड से हेमा चाची के गले को स्पर्श कर पा रहा था. मुझे उस समय चरम सुख का आनन्द मिला और मैंने झड़ते हुए अपना सारा वीर्य हेमा चाची के मुँह में ही छोड़ दिया.

अचानक से हेमा चाची का जी खराब हुआ और उन्होंने उल्टी सी करते हुए मेरे लंड को अपने मुँह से बाहर निकाल दिया.
मेरे लंड के बाहर निकलते ही मेरा लंड बहुत ही चिपचिपा और लिसलिसा सा हो गया था.
हेमा चाची का मुँह भी चिपचिपी लार से भर गया था. वो चिपचिपी लार मेरा वीर्य ही थी, जो चाची के मुँह में ही मेरे झड़ने से हुई थी.

फिर हेमा चाची इसी अवस्था में मेरी ओर देख कर मुस्कुरा दीं और अपने मुँह में मौजूद मेरे वीर्य को पी गईं.

पलंग के पास में रखी टेबल से मैंने पानी की भरी बोतल उठाकर हेमा चाची को दी. चाची वो पूरी बोतल पानी पी गईं और चित होकर बिस्तर पर लेट गईं.
चाची का गोरा नंगा बदन तो जैसे कयामत ढा रहा था. मैं भी हेमा चाची से चिपक कर लेट गया और मैंने दूसरी ब्लू फिल्म लगा ली.

उस ब्लू फिल्म में लड़का लड़की की चड्डी को कैंची से काट देता है और उसकी चूत चाटने लगता है.
फिर वो ब्लू फिल्म वाला लड़का उस लड़की की गांड के छेद में अपना लंड डाल देता है, जिससे लड़की बहुत चिल्लाने लगती है.

ब्लू फिल्म देख कर हम दोनों फिर से उत्तेजित हो गए.

मैंने हेमा चाची से कहा- चाची, अगर मैं भी आपके साथ इसी तरह पीछे से सेक्स करूं … तो क्या आपको मजा आएगा?
चाची हंसी और बोलीं- भास्कर, मजा तो आएगा … लेकिन दर्द भी होगा. अगर तुम मेरे साथ पीछे से करना चाहो, तो कर सकते हो, तुम्हारे लिए इतना दर्द तो मैं सह ही सकती हूँ.

कसम से यारो … ये सुनकर मुझे पता चला कि हेमा चाची मुझसे कितना प्यार करती हैं.

फिर जैसे ही हमने सेक्स करने का मूड बनाया, तभी अचानक से मेरे मोबाईल पर मेरे घर से फोन आ गया. मैं घबरा गया.

मैंने हेमा चाची को चुप रहने का इशारा किया और फोन उठाया, तो घर वालों को कुछ काम था. उन्होंने मुझे जल्दी घर आने को कहा.

यह सुनकर हेमा चाची उदास हो गईं और बोलीं- भास्कर एक बार और सेक्स करते जाओ … फिर चले जाना.
मैंने कहा- चाची घर वाले बुला रहे हैं … जल्दी जाना पड़ेगा. कोई बात नहीं मैं रात में तो आ ही जाऊंगा, फिर जम कर सेक्स करेंगे.

हेमा चाची मान गईं और बोलीं कि ठीक है भास्कर … चले जाओ, लेकिन रात में तुम पीछे से सेक्स कर लेना, मैं न नहीं कहूँगी.

चाची ने पलंग से चादर उतार कर वो चादर ओढ़ ली और थोड़ी देर के लिए कमरे से बाहर चली गईं.

हेमा चाची के बाहर जाते ही मेरी नजर वहां पलंग पर पड़ी हेमा चाची की उतारी हुई चड्डी पर पड़ी.
मैंने जल्दी से अपने सारे कपड़े पहने और हेमा चाची की चड्डी को उठाकर जल्दी से अपनी जींस की जेब में छिपा लिया.

अब हेमा चाची कमरे में आईं और उन्होंने मुझे बाहर आने को कहा.
घर के मेन गेट के पास पहुंचकर हेमा चाची ने जंगले से बाहर देखा, तो वहां कोई नहीं था.
फिर उन्होंने गेट खोल कर मुझे बाहर निकाल दिया और अन्दर से दरवाजा बंद कर लिया.

आज हेमा चाची की चुदने की कामना अधूरी छोड़ कर मैं अपने घर आ गया था. लेकिन आज की रात चाची की चुत का भोसड़ा बनाने का सोचते हुए मैं अपने घर आ गया.

अगली बार मैं इस सेक्सी चाची की चूत मारी कहानी को आगे लिखूंगा. आप मुझे मेल करना न भूलें.
[Hindi sex stories]

सेक्सी चाची की चूत मारी कहानी जारी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *